Instagram सफलता की कहानी

Instagram सफलता की कहानी

आज हम बात करने जा रहे है एक ऐसे App के बारे में जो की 6 अक्टूबर 2010 को Launch हुआ और जिसे आज दुनिया के सबसे बड़ी हस्तियों के साथ विश्व के 1 billions से भी अधिक लोगो द्वारा सरहाना मिली है, ये वो app है जिसने Photography और Photo Shearing का सारा रूप ही बदल दिया | शुरुआत में इसका प्रवेश Apple  के Aap Store में हुआ और इस कंपनी का सिर्फ एक ही लक्ष्य था और वो 

था मोबाइल फोटोग्राफ्स को फ़ास्टसिंपलऔर खुबशुरत बनाना | आज हम जिस कंपनी के बारे में बात कर रहे है वो कोई और नहीं बल्कि हर युवा का सबसे चहिता “App Instagram” है और ये है Kevin Systrom की सफलता की कहानी |

विश्व प्रसिद्ध इंस्टाग्राम के संस्थापक और “CEO” Kevin Systrom का जन्म 30 दिसंबर 1983 को हुआ था उनकी माता ज़िपकार कंपनी की मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव थी और उनके पिता TJX Companies के HR डिपार्टमेंट्स के वाइज प्रेजिडेंट थे | Middlesex School में पढ़ते समय इनका परिचय Computer Programing से हुआ था, आगे बढ़कर Doom 2 गेम खेलते हुए और खुद के Levels बनाते हुए उनकी Computer Programing में दिलचस्पी और बढ़ गई जैसे जैसे वो बड़े हुए उन्होंने अपने मित्रो के AOL In-stent Messenger Accounts को hake करने जैसा खेल खेलने का प्रोग्राम तैयार किया |

टेक्नोलॉजी के प्रति उनका प्यार उनको अपनी माँ से मिला था जो शुरुवात से ही Tech world में काम कर रही थी, पर केविन का पहला जॉब टेक्नोलॉजी से काफी दूर था, केविन ने कॉलेज में पहले कंप्यूटर साइंस को चुना पर आगे वे मैनेजमेंट साइंस और इंजीनियरिंग प्रोग्राम की और चले गए क्योकि कंप्यूटर साइंस के क्लासेज ज्यादा ज्ञानपूर्वक थे न की प्रायोगिक और मॅनॅग्मेंट साइंस का ध्यान फाइनेंस और इकोनॉमिक्स जैसे व्यवहारिक विषयो पे केंद्रित था | वे उन 12 विद्यार्थियों में से एक थे जिन्हे Stanford University के प्रठिस्तिथ  Mayfield Fellows Program में भाग लेने के लिए चुना गया था | यहाँ पर उन्होंने पहेली बार स्टार्टअप की दुनिया का अनुभव हुआ |

2006 में अपनी डिग्री को पूरा करने के बाद केविन ने Google ज्वाइन किया और वहा तीन साल तक रहे उनके करियर की शुरुवात असोसिएट प्रोजेक्ट मैनेजर के तोर पे हुआ और उन्होंने Gmail, Google Calendar, Docs, Spreadsheets आदि प्रोडक्ट पर काम किया | 2 साल के बाद केविन Corporate Development Team में शामिल हुए |

उन्हें हमेसा से ही सोशल स्पेस में प्रवेश करने की चहा थी पर कुछ न कुछ करने की वजह से वो ये नहीं कर पाए | January 2009में आखिर केविन ने ये रिस्क ले ही लिया और Nextstop.com नामक स्टार्टअप में प्रोजेक्ट मैनेजर के तौर पे जुड़े |

जब केविन Nextstop.com में थे तब उन्हें ये लगा की Entrepreneurship ही उनका एकमात्र लक्ष्य है और इसके लिए उन्हें सिर्फ अपने Photography और Social Sharing की चाहत को बड़ौती देने की जरुरत थी| केविन ने अपने खली समय का उपयोग कर एक ऐसे आईडिया पे काम करना शुरू किया जो की Foursquare और Fliker का मिलाप था ये एक ऐसा App था जिसे लोग अपने लोकेशन पर आधारित Photos को शेयर कर सकते थे जिसे Burbn का नाम दिया गया |

Prototype तैयार होने के बाद, उन्होंने जनवरी 2010 में एक पार्टी में Baseline Ventures and Andreessen Horowitz के समाने प्रस्तुत किया। किस्मत ने उनका साथ दिया और अपनी नौकरी छोड़ने के दो हफ्तों में ही $500,000 का Seed Funding मिला Baseline Ventures and Andreessen Horowitz से, इसके बाद उन्हें ये पता था की हर  सक्सेस्फुल कंपनी के स्टार्टअप के पहले उन्हें भी एक Co-Founder की जरुरत पड़ेगी और वो Co-Founder थे उनके दोस्त Mike Krieger (fellow Junior Stanford graduate).

क्योकि Burbn, Foursquare से बहुत मिलता जुलता था उन्हें Tech Blogs से अधिक प्रचार मिलने के बावजूद उस App को बढ़ावा नहीं मिल रहा था लेकिन एक फीचर जो वास्तव में काम आया, वो था फोटो शेयरिंग केविन को ये समझ आया की Burbn में बहुत ज्यादा फीचर्स थे और यूजर को हमेसा कुछ सिंपल ही पसंद आता था इसलिए उन्होंने सिर्फ फोटो शेयरिंग पे फोकस करने का निर्णय लिया|

उस समय के दौरान, केविन की मंगेतर निकोल ने एक बिच पर चलते समय केविन से कहा की वो केविन की   बनाई हुई App कभी नहीं इस्तेमाल करेंगी क्योकि उनका App उनकी ऐसी तस्वीर नहीं ले सकता था की जैसे की उनके आपसी दोस्त लेते थे और उन्हें बताया की उनके App में ऐसी फिल्टर्स को जोड़ना चाहिए जिनसे लोगो की तस्वीरें और भी बेहतरीन लगने लगे, केविन को ये बात बिलकुल सही लगी और उन्होंने तभी निर्णय लिया की उनको App में फिल्टर्स जरूर डालने चाहिए |

उन्होंने App को पूरी तरह से बदल दिया, शुरू में सिर्फ I-Phone Users के इस्तेमाल के लिए तैयार किया क्योकि I-Phone 4का लांच हाल ही में हुआ था उस Phone की High Quality Built In Camera के कारन तस्वीर और भी अच्छे लगने लगे और फिर फिल्टर्स उनको और भी बहेतरीन बनाते थे |

इस जोड़ी ने अपने आईडिया पे आठ हफ्तों तक काम किया Code को सुधारते हुए Visual Design को निखारते रहे आखिर कार 6 अक्टूबर 2010 के रात को उन्होंने Launch Button को दबाया और दुनिया को पहली बार Instagram से मिलाया, Instagram नाम का निर्माण Instant और Telegram को जोड़ कर निकाला गया है Instagram के प्रसारण के दो घंटो के बाद ही यातायात के भीड़ के कारण इसके Servers गिरने लगे, तत्काल असफलता के डर के कारण उन्होंने रात भर बैठ कर काम किया ताकि की Servers को वापस ऊपर ला सके|

कहा जाता है की पहले 24 घंटो के भीतर ही 25,000 से अधिक लोगो ने Instagram को डाउनलोड कर लिया था| लोगो ये App इसलिए पसंद आया क्योकि इसके द्वारा लोग अपने फोटोज को और अच्छा बना सकते थे वो भी बिना पर्सनल डिटेल को शेयर करे| instagram सब को पसंद आने लगी क्योकि ये सिर्फ दुसरो को फॉलो करना और अपनी तस्वीरों को शेयर करने के बारे में था |

9 महीनो के भीतर ही Instagram के पास एक Record Breaking 7 Million Users थे, जिसमे Justin Bieber औरRyan Seacrest जैसे अत्यधिक प्रभावशाली हस्तिया भी शामिल थी |

इसकी बढ़ती हुई लोकप्रियता ने Mark Zuckerberg को इस App को नोटिस करने में मजबूर किया और उन्हें ये ऐहसाहस हुआ की फेसबुक के Users ने अपने फोटोज को फेसबुक पे पोस्ट करना बंद कर चुके थे और उसके बदले में इंस्टाग्राम पे शेयर कर रहे थे, और क्योकि फोटोज अपलोड करना फेसबुक के शुरुवाती लोकप्रियता के लिए मुख्य तत्वों मं से एक था| ये वास्तव में मार्क के लिए चिंता का कारण बन गया था, उसी समय उन्होंने ये सोचा क्यों न वो दोनों ही एक कंपनी हो और उन्होंने केविन को भी ये ऑफर दिया |

उसी समय केविन को Arizona के एक Investment Bank (Allen & Co.) ने उन्हें Tony Conference के लिए आमंत्रित किया था | एक रात Campfire के सामने थोड़ी देर बात करने के बाद Jack Dorsey (now CEO of Twitter)और Ali Rowghani (then CFO of Twitter) ने केविन को करीब $500-million के लिए Instagram खरीदने का प्रस्ताव रखा तभी केविन को Sequoia Capital ने भी बड़ी रकम का इन्वेस्मेंट ऑफर किया था |

अंत में सभी के रहस्यों को समाप्त कर केविन ने Sequoia का ऑफर स्वीकार करने का निर्णय लिया ताकि ये एक इंडिपेंडेंट कंपनी बने रहे, केविन ने मार्क को भी संपर्क किया ताकि वे अपना फैसला बता सके लेकिन मार्क औरो की तरह न सुनने वालो में से नहीं थे, काफी डिस्कशन के बाद आखिरकार मार्क ने केविन को एक ऐसा ऑफर दिया जो की Sequoia के ऑफर का दुगना था|

मार्क ने इंस्टाग्राम को खरीदने के लिए $1 Billion का ऑफर पेस किया और केविन ने इस डील को अपना लिया इसके साथ ही इंस्टाग्राम और उसके साथ काम करने वाले 13 कर्मचारियो को अप्रैल 2012 में फेसबुक ने लगभग $1 Billion में Cash and Stock से प्राप्त कर लिया | इस डील के बाद भी इंस्टाग्राम एक इंडिपेंडेंट कंपनी के जैसा ही चलता रहा और सभी के अपेछाओ को पीछे छोड़ते हुए तेजी से आगे बढ़ रहा है|

यह कंपनी अब Menlo Park California में फेसबुक के ऑफिस में ही स्थापित है और इंस्टाग्राम आज $37 Billion से भी अधिक लाभदायक होने का दावा करता है| इंस्टाग्राम चहिते हस्तियों का पसंदीदा App मन जाता है

केविन अभी भी इंस्टाग्राम के Day To Day Operation और उसके रड़नीति का ध्यान रखते है उन्ही के कारण इंस्टाग्राम आज दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ती हुई सेवाओं में से एक बन गया है | केविन एक ऐसे व्यक्ति है जो हमेसा से ही चीज़ो को आसान बनाने में विश्वाश रखते है और सभी समस्याओ का समाधान ढूंढने के लिए रचनात्मकता का उपयोग करते है इस प्रोडक्ट को से Celebrities, Newsroom, Brands, Teens और Musician सभी अपने द्रश्य से अपनी कहानी बताने का साधन मानते है

Source : hindishayarie

Spread the love
  • 7
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *